पीएम किसान सम्मान निधि के तहत अगली किश्त जारी करेंगे- PM मोदी
PM will release next installment under Kisan Samman Nidhi - PM Modi

पीएम किसान सम्मान निधि के तहत अगली किश्त जारी करेंगे- PM मोदी

नई दिल्ली

कृषि कानूनों के विरोध में दिल्ली बॉर्डर पर पिछले एक महीने से जारी किसानों के विरोध प्रदर्शन के बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए 25 दिसंबर को पीएम किसान सम्मान निधि के तहत वित्तीय लाभ की अगली किश्त जारी करेंगे। प्रधानमंत्री कार्यालय की ओर से बुधवार को ये जानकारी दी गई। प्रधानमंत्री कार्यालय ने ट्वीट के माध्यम से बताया कि प्रधानमंत्री 9 करोड़ से अधिक लाभार्थी किसान परिवारों को 18,000 करोड़ रुपये से अधिक की राशि हस्तांतरित करेंगे। 

पीएमओ की ओर से जानकारी दी गई कि आयोजन के दौरान प्रधानमंत्री 6 अलग-अलग राज्यों के किसानों के साथ बातचीत भी करेंगे। इस बातचीत में वह किसान कल्याण के लिए सरकार द्वारा की गई विभिन्न अन्य पहलों को लेकर किसानों के साथ अपने अनुभव साझा करेंगे। इस बातचीत के दौरान कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर भी मौजूद रहेंगे। 

For News and Advertisement

कृषि कानूनों को लेकर जारी है किसानों का प्रदर्शन

बता दें पीएम मोदी किसान सम्मान निधि की ये किश्त ऐसे समय जारी करने जा रहे हैं। जब पंजाब और हरियाणा के आंदोलनकारी किसान पिछले करीब एक महीने के प्रदर्शन कर सरकार से नए कृषि सुधार कानून वापस लेने की मांग कर रहे हैं। इसे लेकर किसान संगठनों और सरकार के बीच कई दौर की वार्ताएं भी हो चुकी हैं। लेकिन अभी तक कोई समाधान नहीं निकल सका है। किसानों का कहना है कि सरकार इन कानूनों को पूरी तरह से वापस ले जबकि सरकार का कहना है कि ये कानून किसानों की भलाई के लिए हैं और इस पर किसानों को बातचीत करनी चाहिए। 

For News and Advertisement

इस संबंध में केंद्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने मंगलवार को जोर दिया कि नए कृषि सुधार कानून भारतीय कृषि के क्षेत्र में नए युग की शुरुआत करेंगे और कहा कि सरकार अभी भी प्रदर्शन कर रही यूनियनों के साथ विवाद के सभी मुद्दों पर चर्चा जारी रखने की इच्छुक है। मंत्री ने कहा कि कृषि क्षेत्र भारतीय अर्थव्यवस्था की रीढ की हड्डी है और नरेंद्र मोदी सरकार वर्ष 2022 तक किसानों की आय दोगुनी करने पर ध्यान केंद्रित कर रही है। किसान नए कृषि कानूनों को वापस लेने की अपनी मांग मनवाने के लिए अब अंतरराष्ट्रीय स्तर पर दबाव बनाने की तैयारी कर रहे हैं। इस संदर्भ में किसान संगठन ब्रिटेन के सांसदों को पत्र लिखकर आग्रह कर रहे हैं कि वे अपने प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन को गणतंत्र दिवस के मौके पर भारत आने से रोकें। 

 

 

PM will release next installment under Kisan Samman Nidhi – PM Modi