बीसीसीआई ने युवराज सिंह को घरेलू क्रिकेट खेलने के लिए ना कहा, जानिए कयूँ
BCCI asks Yuvraj Singh not to play domestic cricket, know why

बीसीसीआई ने युवराज सिंह को घरेलू क्रिकेट खेलने के लिए ना कहा, जानिए कयूँ

नई दिल्ली

पूर्व भारतीय ऑलराउंडर युवराज सिंह ने घरेलू क्रिकेट में अपनी वापसी की उम्मीद की थी। लेकिन भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड ने नियमों का हवाला देते हुए इसकी इजाजत नहीं दी। नियमों के मुताबिक, एक भारतीय क्रिकेटर जो किसी अन्य विदेशी लीग का हिस्सा रहा है। आईपीएल सहित भारतीय क्रिकेट में अपनी वापसी नहीं कर सकता है। इसलिए, बीसीसीआई ने युवराज सिंह को वापसी के लिए ना कहा।

For News and Advertisement

युवराज सिंह ने इससे पहले पंजाब टीम के शिविर में भी शामिल हुए थे। दो बार के विश्व कप विजेता खिलाड़ी ने हालांकि, इस पर अभी तक कोई प्रतिक्रिया नहीं दी। उनके पिता योगराज सिंह ने कहा है कि बीसीसीआई को पूर्व खिलाड़ियों को वापस जाने की अनुमति देनी चाहिए। योगराज सिंह ने कहा कि पूर्व खिलाड़ियों को वापस आने की अनुमति मिलती है तो इससे युवा लड़कों को फायदा होगा। उन्होंने कहा, ”मैं सटीक कारण के बारे में निश्चित नहीं हूं। क्योंकि मैं अभी तक युवराज सिंह के साथ ही बात नहीं कर पाया हूं। लेकिन यह पूरी तरह से बीसीसीआई की पसंद है। हालांकि, मुझे लगता है कि रिटायर हो चुके खिलाड़ियों को वापसी करने और युवा लड़कों के साथ खेलने के लिए पर्याप्त समय दिया जाना चाहिए। जो सीनियर खिलाड़ियों के बहुत कुछ सीख सकते हैं।

उन्होंने आगे कहा, ”पुनीत बाली के साथ मुझे भी ऐसा लगता है कि युवा लड़कों के साथ खेल खेलना युवराज सिंह के लिए वास्तव में महत्वपूर्ण था। आईपीएल से पहले हमने एक कैंप भी किया था और युवराज से युवा खिलाड़ियों के साथ खेलने के लिए कहा था। युवी ने कहा था कि अब वह बूढ़े हो गए हैं। लेकिन मैंने जोर दिया कि उन्हें युवा खिलाड़ियों के साथ खेलना चाहिए। उन्होंने चार-पांच पारियां खेली थी और वह अच्छी फॉर्म में थे। जबकि लड़के हैरान थे और सोच रहे थे कि वह आज भी इस तरह के स्तर पर कैसे खेल सकते हैं। इंटरनेशनल क्रिकेट से रिटायरमेंट के बाद युवराज सिंह ने ग्लोबल टी20 कनाडा टूर्नामेंट और टी10 लीग खेली थी। युवराज सिंह को लेकर खबरें थीं कि वह बिग बैश लीग 2020-21 के ड्रॉफ्ट में एंट्री करेंगे, लेकिन ऐसा नहीं हुआ।

For News and Advertisement

बीसीसीआई ने अन्य मामलों में कैसे प्रतिक्रिया दी

इसी साल के शुरुआत में बीसीसीआई ने गेंदबाज प्रवीण तांबे को आईपीएल 2020 में हिस्सा लेने से इंकार कर दिया था। क्योंकि वह इससे पहले टी10 लीग में खेल चुके थे। आईपीएल 2020 के ऑक्शन में प्रवीण तांबे को कोलकाता नाइट राइडर्स ने खरीदा था। इस अनुभवी टी20 खिलाड़ी ने बीसीसीआई से इजाजत नहीं मिलने के बाद इतिहस रचा था। वह कैरेबियन प्रीमियर लीह में हिस्सा लेने वाले पहले भारतीय खिलाड़ी बने थे। इससे पहले 2019 में हरभजन सिंह ने भी ‘द हंड्रेड’ सीरीज के ड्रॉफ्ट से अपना नाम वापस लिया था। क्योंकि उन्होंने अभी तक भारतीय क्रिकेट से संन्यास नहीं लिया है।

 

 

 

 

BCCI asks Yuvraj Singh not to play domestic cricket, know why