विजीलैंस ने पटवारी हरविन्द्र सिंह पड्डा व करिंदे डोनल को रंगे हाथों दबोचा…डोनल की शानो शौकत से ही अंदाजा लगाया जा सकता है कि उसके रिश्वतखोरी कारनामों का…. पहले से ही था डोनल हिट लिस्ट पर…जल्दी ही कानूनगो प्रमोट होने जा रहा था पटवारी

विजीलैंस ने पटवारी हरविन्द्र सिंह पड्डा व करिंदे डोनल को रंगे हाथों दबोचा…डोनल की शानो शौकत से ही अंदाजा लगाया जा सकता है कि उसके रिश्वतखोरी कारनामों का…. पहले से ही था डोनल हिट लिस्ट पर…जल्दी ही कानूनगो प्रमोट होने जा रहा था पटवारी

जालन्धर (लखबीर) 

विजीलैंस ने गढ़ा वहिंदा के पटवारी हरविन्द्र सिंह पड्डा व उसके करिंदे डोनल को रिश्वत के पैसों सहित रंगे हाथों दबोचा। गढ़ा के राज कुमार ने शिकायत दर्ज करवाई थी, जिस के तहत दोनों को काबू किया गया है। बतादें कि पटवारी हरविन्द्र सिंह पड्डा जोकि जल्दी ही कानूनगो प्रमोट होने जा रहा था को शिकायत के आधार पर काबू कर लिया गया। गढ़ा के राज कुमार ने बताया कि पुराने इन्तकाल के मामले में पटवारी ने एक लाख रुपए की मांग की थी पर सौदा 80 हजार रुपए में तय हुआ, जिसके इव्ज में आज 19 हजार रुपए पटवारी को दिए जा रहे थे। बार-बार कहने पर भी रिश्वत की रकम नहीं घटाई जिस पर विजीलैंस को शिकायत दर्ज करवाई गई। राज कुमार ने बताया कि वह भी पंजाब पुलिस में हैड कांस्टेबल की नौकरी पर तैनात है।

डोनल पहले ही था हिट लिस्ट पर

गढ़ा के पटवारी का प्राइवेट करिंदा पहले से ही हिट लिस्ट पर चला आ रहा था। अगर डोनल की कमाई का हिसाब लगाया जाए तो पता चल सकता है कि उसने कुछ ही वर्षों में महंगी गाड़ियां तथा प्रापर्टी का जाल बिछा रखा है। चाहे उसने बहुत सारा सामान अपने नाम की बजाए अन्य लोगों के नाम करवा रखा है पर उसकी शानो-शौकत को देखकर अंदाजा लगाया जा सकता है। देखने योग्य बात है कि चाहे गढ़े के पटवारी कितने भी सीट पर आएं हों पर डोनल वहीं का वहीं जमा रहा है।